5:28 am - Saturday August 19, 2017

जनरल मुशर्रफ की पाकिस्तानी आतंकवादियों को ट्रेनिंग देने की गर्वोक्ती के बाद क्या करें : कैसे पाकिस्तान आत्मघाती आतंकवादी पैदा करता है – हूरों के विडियो देखें

जनरल मुशर्रफ की पाकिस्तानी आतंकवादियों को ट्रेनिंग देने की गर्वोक्ती के बाद क्या करें :
कैसे पाकिस्तान आत्मघाती आतंकवादी पैदा करता है – हूरों के विडियो देखें nawaz raheel sharief
RKURajiv Upadhyay
कल रात को जनरल मुशर्रफ ने एक अजीबो गरीन बयान दे दिया की उनको ओसामा बिन लादेन , हफीज सईद , जवाहरी इत्यादी पर गर्व हैं और यह सब खुन्खार आतंकवादी पाकिस्तानियों के हीरो हें . क्योंकि यह आतंकवादी कश्मीर पर जान देने के लिए तत्पर रहते ह…ैं इसलिए पाकिस्तानी सेना उन्हें ट्रेनिंग वव अन्य सहायता देती है.
इस खतरनाक गर्वोक्ती पर पाकिस्तान को ज़रा भी डर नहीं है की उसे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से झिडकी या बहिष्कार मिलेगा . शायद पकिस्तान के छोटे एटम बम्बों के बना लेने व् कुछ मिसायिलों से उनमें इतना अभिमान भर गया है की अन्तरराष्ट्रीय नियमों के उल्लंघनों का इतना खुले आम निरादर कर रहे हैं . यह वैसे तो अमरीका को चेतावनी है की पकिस्तान उसकी परवाह नहीं करता . कारगिल की पराजय से
मुशर्रफ कुछ नहीं सीखे और एक और याहया खान बनने को उत्सुक हैं .
शायद अमरीका की शक्ति को इतना कम आंकने मैं मुशर्रफ सद्दाम व् गद्दाफी सरीखी भूल कर रहे हें . वह अफगानिस्तान मैं बुरा फंस गया हो तो भी मरा हाथी भी सवा लाख का होता है . अगला राष्ट्रपति बुश की भांति पकिस्तान के पर्खाच्ची उधेड़ सकता है .
भारत को अब अमरीका , रूस ,यूरोप व् चीन को खुले आतंकवाद के हिमायतियों को जेल भेजने व् पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित करने के लिए दबाब बनाना होगा. परन्तु जवाहर लाल नेहरु की गलती से भी बचना होगा . विदेशी नहीं बल्कि अपनी ताकत पर ही पाकिस्तान को सबक सिखाना होगा .
एक प्रश्न यह भी उठाता है की सब देशों के कम आयु के जवान मुसलमान इतनी संख्या मैं क्यों आतंकवादी आत्मघाती प्रयासों से जुड़ जाते हैं . इस सन्दर्भ मैं नीचे दिए विडियो लिंक पर क्लिक कर देखें कि कैसे मौलाना अपनी पत्नियों को निकृष्ट व् जिहाद में मर कर जन्नत की हूरों को पाने के लिए उकसा रहा है . कोई पूछे की खुद क्यों जान नहीं दे देते ?
(महिलाओं को विडियो आपत्तीजनक लग सकता है .)
पर मोदी जी की मुश्किल है की पाकिस्तान की टेढ़ी दम का क्या करें . बारह साल नाली मैं डालने के बाद भी टेढ़ी ही रहेगी !
शायद देश जनरल सुंदरजी की तरह अजीत दोवल से कुछ नया पा सके !

see video

 

Filed in: Articles, Uncategorized

No comments yet.

Leave a Reply