1:52 pm - Saturday November 18, 2017

दिल्ली पर चार हज़ार वर्षों के हिन्दू शासन का इतिहास : दिल्ली शासनाधीशों का सरकारी झूठ

दिल्ली मैं चुनाव आते आते मुसलामानों को साथ लेने के लिए जो झूट फैलाया जा रहा है की दिल्ली पर तो राज करने का उनका नैसर्गिक अधिकार है .अंग्रेजों ने अंतिम मुग़ल शासक बहादुर शाह ज़फर के बच्चों के सर काट के दिल्ली के खुनी दरवाज़े पर लटका दिए गए थे .एक और राजा शाह आलम – २ की आँखें निकाल ली गयीं थीं .नादिरशाह के आक्रमण ने दिल्ली मैं जो कत्ले आम हुआ उसे आज भी कोई नहीं भुला है .लूट और नरसंघार मैं अब्दाली ने क्या कसर छोडी .ये इतिहास कोई नहीं बताता पर अफ़ग़ानिस्तान से आये गौरी व् गजनी ईरान के नादिर शाह,व् उज्बेकिस्तान के बाबर को अपनाने के लिए सब तैयार हैं . भारत के रहने वालों के सर तो सभी ने बेरहमी से काटे थे चाहे वह बाद मैं मुसलमान बन गए हों . यह सच कौन बताएगा . .दिल्ली के चार हज़ार साल के इतिहास को निम्न लेख मैं पढ़ें .khooni darwaazaa

Has Delhi been always ruled by Islamists as Kejriwal says? Check the Rich Hindu Lineage of Indraprasth (Today’s Delhi) from last 4000 years!

Filed in: Articles, इतिहास

No comments yet.

Leave a Reply