Archive: Art Subscribe to Art

कुछ अमरीकी हथियारों के लिए रूस की पुरानी मित्रता खोना भारत के हित में नहीं है

कुछ अमरीकी हथियारों के लिए रूस की पुरानी मित्रता खोना भारत के हित में नहीं है राजीव उपाध्याय...

भारत और रूस : राष्ट्रीय हितों की मजबूरियों के मारे ‘ व्लादिस्तोवक , ‘पास रह कर भी बहुत दूर रहे ‘

भारत और रूस : राष्ट्रीय हितों की मजबूरियों के मारे ‘ व्लादिस्तोवक  , ‘पास रह कर भी बहुत दूर...

अमीर उद्योगपतियों का राजनीति वश उत्पीडन राष्ट्र हित मैं नहीं है : हर्षद मेहता ,विजय मल्या , ट्रम्प ,स्टीव जॉब्स

आज कल भारत से भागे हुए उद्योगपति विजय माल्या बहुत चर्चा मैं हैं . जहां देश के बहुत विश्वसनीय उद्योगपति...

Trump and India : We Should Quickly and Proactively Create Opportunitues by Marrying Trumponomics with Manmohanomics and Common Defence Perspectives

Trump and India : We Should Quickly and Proactively  Create Opportunitues by Marrying Trumponomics with Manmohanomics  and Common Defence Perspectives R.K.Upadhyay   Like PM Modi , Donald Trump has won the elections by promising rapid economic...

आधुनिक भारत के आर्थिक विनाश का इतिहास – अंग्रेजों की लगान प्रणालियाँ , पूँजीपलायन व् अकाल

आधुनिक भारत के  आर्थिक विनाश का इतिहास – अंग्रेजों की  लगान  प्रणालियाँ पूँजी बहिर्गमन व्...

मोदी युग : देश का पुनर्जागरण लक्ष्य होना चाहिए मात्र आर्थिक प्रगति या नौकरियाँ नहीं

आज जो देश मैं आशा व् उत्साह का वातावरण है और जो मोदी सरकार को प्रचंड बहुमत प्राप्त है यह विलक्षण...

SUBRAMANYA BHARTI : A GREAT PATRIOT- V.Anand

Subramanya Bharathi December 11, 1882 – September 11, 1921) was an Indian writer, poet, journalist, Indian independence activist and social reformer from Tamil Nadu. Popularly known as Mahakavi Bharathiyar  he is a pioneer of modern Tamil...

मुंबई के बाद अब सैनिकों की हत्या : क्या संयुक्त पकिस्तान भारत के हित मैं नहीं है ? : Is Unified Pakistan Not In Indian Interest

 मुंबई व् अफज़ल को बीता इतिहास मान चुका शर्मनाक भारत , अभी भारत मेजर कालिया की बाबर ह्त्या को भुला...

अधोपतन : क्या भारत अंतर्राष्ट्रीय मुद्राकोष से ऋण लेने जा रहा है : rediff

क्या कर दिया सरकार ने मेरे भारत का ? अभी यूरोप को ऋण देने के लिए तत्पर भारत अब फिर १९९० की कगार पर...

In Defence of Gujrat Police – K.P.S.Gill : इस नामर्दों के देश मैं पैदा मुझे क्यों कर दिया – जोश मलीहाबादी

In Defence of Gujrat Police – K.P.S.Gill देश को एक बार फिर के पी एस गिल का अनुग्रहित होना पड़ेगा . यह साफ़ है की जनरल बरार...