11:25 am - Saturday September 22, 2018

Aisa Desh Hai Mera

अम्बर हेठां, धरती वसदी, इथे हर रुत हसदी, हो….
किन्ना सोना, देस है मेरा, देस है मेरा, देस है मेरा….
किन्ना सोना देस है मेरा, देस है मेरा
देस है मेरा, देस है मेरा

धरती सुनहरी अम्बर नीला हो…
धरती सुनहरी अम्बर नीला, हर मौसम रंगीला
ऐसा देस है मेरा, हो…. ऐसा देस है मेरा..
बोले पपीहा कोयल गाये…
बोले पपीहा कोयल गाये, सावन घिर के आये
ऐसा देस है मेरा, हो…. ऐसा देस है मेरा..
कोठे ते, कान बोले आई चिठी मेरे माहिए दी..
विच आने डा वि न बोले आई, चिठी मेरे माहिए दी..
गेंहू के खेतो मे कंघी जो करे हवाए
रंग बिरंगी कितनी चुनरियां उड़ उड़ जाए
पनघट पर पन्हारण जब गगरी भरने आये
मधुर मधुर तानो मे कही बंसी कोई बजाये, लो सुन लो
क़दम क़दम पे है मिल जानी
क़दम क़दम पे है मिल जानी, कोई प्रेम कहानी
ऐसा देस है मेरा, हो…. ऐसा देस है मेरा..

ओह मेरी जुगनी दे धागे पक्के जुगनी ओस दे मूह तोह फब्बे
जीनु सैट इश्क दी लग्गे, ओय सांई मेरेय ओह जुगनी
वीर मेरेय जुगनी केंदी ए, ओह नाम साई डा लेंडी ए
ओह दिल कद लिटा ई जींद मेरिये

बाप के कंधे चढ़ के जहा बच्चे देखे मेले
मेलो मे नाच के तमाशे, कुल्फी के चाट के ठेले
कही मिलती मीठी गोली, कही चूरन की है पुडिया
भोले भोले बच्चे है, जैसे गुड्डे और गुडिया
और इनको रोज़ सुनाये दादी नानी हो..
रोज़ सुनाये दादी नानी, इक परियो की कहानी
ऐसा देस है मेरा, हो…. ऐसा देस है मेरा..

सड़के सड़के जांदी ए मुटियारे नि
कंदा चुबा तेरे पैर बांकिये नारे नि
ओय, नि अदिये कंदा चुबा तेरे पैर बांकिये नारे नि
कौन कड़े तेरा कान्द्र मुटियारे नि
कौन सहे तेरी पेड बांकिये नारे नि
ओय, नि अदिये कौन सहे तेरी पेड बांकिये नारे नि
मेरे देस मे मेहमानो को भगवान् कहा जाता है
वोह यही का हो जाता है, जो कही से भी आता है

तेरे देस को मैने देखा तेरे देस को मैने जाना..
जाने क्यू ये लगता है मुझको जाना पहचाना
यहा भी वही शाम है वही सवेरा
वही शाम है वही सवेरा
ऐसा ही देस है मेरा जैसा देस है तेरा
वैसा देस है तेरा हा जैसा देस है तेरा

ऐसा देस है मेरा हो.. जैसा देस है तेरा..
ऐसा देस है मेरा हा..
वैसा देस है मेरा

Filed in: Songs Lyrics

No comments yet.

Leave a Reply