1:49 am - Monday May 29, 2017

Archive: Poems Subscribe to Poems

दरबारे वतन में जब इक दिन

दरबारे वतन में जब इक दिन – फैज़ अहमद फैज़ (Faiz Ahmed Faiz) दरबारे वतन में जब इक दिन सब जाने वाले जायेंगे कुछ...

मोको कहां ढूढे रे बन्दे

मोको कहां ढूढे रे बन्दे – कबीर (Kabir) मोको कहां ढूढे रे बन्दे मैं तो तेरे पास में ना तीर्थ मे ना मूर्त...

छिप-छिप अश्रु बहाने वालों

छिप-छिप अश्रु बहाने वालों – गोपालदास “नीरज” (Gopaldas Neeraj) छिप-छिप अश्रु बहाने वालों, मोती व्यर्थ...

मेरी थकन उतर जाती है

मेरी थकन उतर जाती है – रामावतार त्यागी (Ram Avtar Tyagi) हारे थके मुसाफिर के चरणों को धोकर पी लेने से मैंने...

और भी दूँ

और भी दूँ – रामावतार त्यागी (Ram Avtar Tyagi) मन समर्पित, तन समर्पित और यह जीवन समर्पित चाहता हूँ देश...

एक भी आँसू न कर बेकार

एक भी आँसू न कर बेकार – रामावतार त्यागी (Ram Avtar Tyagi) एक भी आँसू न कर बेकार जाने कब समंदर मांगने आ जाए! पास...

पुष्प की अभिलाषा

पुष्प की अभिलाषा – माखनलाल चतुर्वेदी (Makhanlal Chaturvedi) चाह नहीं मैं सुरबाला के गहनों में गूँथा जाऊँ चाह...

मुक्ति की आकांक्षा

मुक्ति की आकांक्षा – सर्वेश्वरदयाल सक्सेना (Sarveshwar Dayal Saxena) चिड़िया को लाख समझाओ कि पिंजड़े के...

सूरज को नही डूबने दूंगा

सूरज को नही डूबने दूंगा – सर्वेश्वरदयाल सक्सेना (Sarveshwar Dayal Saxena) अब मै सूरज को नही डूबने दूंगा देखो...

तुम्हारे साथ रहकर

तुम्हारे साथ रहकर – सर्वेश्वरदयाल सक्सेना (Sarveshwar Dayal Saxena) तुम्हारे साथ रहकर अक्सर मुझे ऐसा महसूस...